हमारी वेबसाइट में आपका स्वागत है


 
हरियाणा राज्य मुख्य रूप से एक कृषि प्रधान राज्य है। इसके लगभग 80% भूमि पर कृषि की जाती है। राज्य का भौगोलिक क्षेत्र 44212 वर्ग किलोमीटर है जो भारत के भौगोलिक क्षेत्र का 1.3% है। यह राज्य प्राकृतिक वनों से आच्छादित नहीं है तथा भौगोलिक क्षेत्र का केवल 3.90% अधिसूचित वनों के अधीन है। इंडिया स्टेट ऑफ फॉरेस्ट-रिपोर्ट (एफएसआई) 2011 के अनुसार राज्य में वन आवरण 1608 वर्ग किलोमीटर है जो राज्य के भौगोलिक क्षेत्र का 3.64% है तथा राज्य में वृक्ष आवरन 1395 वर्ग किलोमीटर है जो भौगोलिक क्षेत्र का 3.16% है। इस प्रकार वन और वृक्ष आवरन का कुल क्षेत्र हरियाणा राज्य के भौगोलिक क्षेत्र का 6.80% है। राज्य में वानिकी गतिविधियां उत्तर में शिवालिक पहाडि़यों, दक्षिण में अरावली पहाड़ियों, पश्चिम में बंजर भूमि और बलुआ स्थानों, राज्य के मध्य भाग में लवणीय एवं क्षारीय भूमि और जलग्रस्तं स्थानों में फैली हुई हैं।


13/6/2013